Sheikh Chilli Funny Hindi Stories For Kids – Part 2

Sheikh Chilli Funny Hindi Stories For Kids - Comedy Story In Hindi
Sheikh Chilli Funny Hindi Stories For Kids - Comedy Story In Hindi

कैसे हैं दोस्तों ? आज मैं आपके सामने फिर से शेख चिल्ली (Sheikh Chilli) की मज़ेदार कहानियाँ लेकर आया हूँ। यह पार्ट 2 है, पार्ट 1 पढने के लिए यहाँ क्लिक करें

मैं आशा करता हूँ कि यह कहानी भी आपलोगों को बहुत अच्छा लगेगा। अगर आपको कुछ बताना हो तो हमारा कमेंट बॉक्स आपके लिए हमेशा से खुला हुआ है। आप हमें सब बता सकते हैं।

Sheikh Chilli Funny Hindi Stories For Kids – Comedy Story In Hindi

Sheikh Chilli Funny Hindi Stories For Kids
Comedy Story In Hindi – Part -2

Sheikh Chilli Funny Hindi Stories For Kids – Comedy Story In Hindi

चल गयी चल गयी

Sheikh Chilli Funny Hindi Stories For Kids - Comedy Story In Hindi
Sheikh Chilli Funny Hindi Stories For Kids - Comedy Story In Hindi

एक दिन चिल्ली बाजार में यह कहते हुए भाग पड़े – “चल गयी… चल गयी।”

उन दिनों शहर में बहुत तनाव था और झगड़े की आशंका थी। चिल्ली उन दिनों 13 वर्ष के किशोर थें।

उन्हें “चल गयी…चल गयी” चिल्लाते, भागते देखकर लोगों ने समझा कि लड़ाई चल गई है।

दुकानें बंद करके लोग भागने लगे। बाजार बंद हो गया और वहाँ भगदड़ मच गयी।

कुछ समझदार लोगों ने भागते हुए शेख़ चिल्ली से पूछा – “यह तो बताओ, कहाँ पर चली है? कुछ जानें भी चली गयीं हैं क्या?”

“क्या मतलब?” चिल्ली मियाँ बोले।

“अरे भाई! तुम्ही सबसे पहले यह खबर लेकर आये हो, लड़ाई किस मुहल्ले में चली है।”

“अरे मियाँ, कैसी लड़ाई?” मियाँ चिल्ली ने लोगों से बहुत ही मासूमियत के साथ यह सवाल किया।

“अरे चिल्ली मियाँ, तुम्हीं तो चिल्ला रहे थे ना – चल गयी… चल गयी।”

“हाँ, मैं तो चिल्ला ही रहा था ना, मेरी एक खोटी दुअन्नी के लिए चिल्ला रहा था। मैं चिल्ला कर खुश हो रहा था कि जो सिक्का मेरे जेब में बहुत दिनों से पड़ी हुई थी, लेकिन उस सिक्के को सभी लेने से इनकार कर रहे थे। आज जाकर वह सिक्का उस लालाजी की दुकान पर चल गयी…।”

लोग मूर्ख चिल्ली की इस बात पर अपना सिर धुनकर अपने-अपने रास्ते चलते बने।

Sheikh Chilli Funny Hindi Stories For Kids – Comedy Story In Hindi

बुढ़िया मर गयी

Sheikh Chilli Funny Hindi Stories For Kids - Comedy Story In Hindi
Sheikh Chilli Funny Hindi Stories For Kids - Comedy Story In Hindi

एक बार माता-पिता ने शेख चिल्ली को घास खोदने के लिए जंगल भेज दिया। उन दिनों चिल्ली बारह वर्ष का था।

दोपहर तक उन्होंने एक गठ्ठर घास खिद ली और गट्ठर उठाकर घर चले आये।

घरवाले बहुत खुश हुए।

पहली बार चिल्ली ने काम किया था।

लेकिन कई घंटे बीतने के बाद अचानक से मियाँ चिल्ली को याद आया कि घर से जो खोदने के लिए वह जिस खुरपे को ले गए थे, वह वहीं छूट गया है, जहाँ उन्हें घास खोदी थी। घरवालों से मार ना पड़े तो इसलिए वह खुरपे को लेने पहुँचे।

उस तेज धूप में खुरपी पड़े-पड़े बहुत गर्म हो गयी थी।

चिल्ली ने चिलचिलाती हुई धूप में पड़ा हुआ अपना गर्म तवे-सा तपता खुरपा को मुट्ठी से पकड़ा, तो मुट्ठी भी गर्म हो गयी।

चिल्ली मियाँ को बहुत घबराहट हो गयी कि क्या हो गया है इस खुरपे को।

“अरे खुरपे को तो बुखार हो गया है।” मन-ही-मन चिल्ली बहुत ही चिंता में थे और तभी वो हकीम के पास पहुंचे और हकीम से बोले- “हकीम साहब! हमारे खुरपे को बुखार हो गया है, जरा इसे दवाइयाँ दे दीजिए। बहुत बुखार हो गया है इसको।”

हकीम समझ गया कि चिल्ली शरारत कर रहा है।

उसने वैसे ही उत्तर दिया कि, “अरे हाँ, वाकई इसे तो बुखार है, जाओ जल्दी से इसे रस्सी से बांध कर कुएं में लटकाकर डुबकी लगवा दो। अगर तब भी बुखार न उतरे तो तुम इसे मेरे पास लेते आना। मैं इसके बाद का उपाय बता दूंगा।”

मियाँ चिल्ली हकीम की बात मानते हुए चले गए और रस्सी से खुरपा को बांध दिया और फिर उसको कुएं में लटकाकर खूब गोतें लगवाएँ।

इसके थोड़ी देर बाद चिल्ली ने उसे ऊपर लाया और देखा कि खुरपा ठंडा होगया था तो उसको हुआ कि इसका बुखार खत्म होगया है। मियाँ चिल्ली ने हकीम साहब को धन्यवाद दिया।

संयोगवश एक दिन हकीम साहब के दूर के रिश्तेदार और उन्हीं से हमेशा दवाई लेने वाली एक बुढ़िया को तेज बुखार होगया। वह चिल्ली के पड़ोस में रहती थी।

तो मियाँ चिल्ली ने देखा कि बहुत तेज बुखार से तपती हुई उस सत्तर वर्ष की बुढ़िया को उसके घरवाले हकीम साहब के पास ले जाने के लिए तैयार हो रहे थे।

तभी चिल्ली को शरारत सूझी। उसने हकीम साहब का बताया हुआ नुस्खा उन्हें बताते हुए कहा- “हकीम साहब जो कुछ भी आप लोगों को बतायेंगे वो मैं आपको यहीं बता देता हूँ तो आप लोगों को वहाँ जाने की कोई जरूरत नहीं पड़ेगी। दादीजान को तेज बुखार है और यह गरम खुरपे सी तप रहीं हैं।”

“इसका सबसे अच्छा उपाय और एक मात्र इलाज यह है कि दादीजान को किसी कुएं या तालाब में बहुत अच्छी तरह से डुबकी लगवाया जाए। इससे ये बुखार नाम की चीज हमेशा के लिए भाग जायेगी और इस तरकीब को मुझे हकीम साहब ने खुद बताया था। मैंने ऐसा किया था तो बुखार तुरंत खतम हो गया था।”

लेकिन लोगों को यह पता नहीं था कि मियाँ चिल्ली का मामला बहुत ही हटके था।

लोगों ने मूर्खों की तरह मियाँ चिल्ली की यह बात मानते हुए बुढ़िया को एक रस्सी से बांध कर कुएं में बहुत डुबकियां लगवाईं। और जब थोड़ी देर बाद उसे ऊपर लाया गया तो उस बुढ़िया का पूरा शरीर ठंडा पर गया था और उसके प्राण पखेरू उड़ गए थे।

सभी लोग चिल्ली पर बरस पड़े। बुढ़िया के घरवालों ने गुस्से में चिल्ली से कहा- “तुमने तो दादीजान को तो जान से ही खतम कर दिया।”

मियाँ चिल्ली बोले- “मियाँ, मैंने तो बस बुखार की गारण्टी ली थी, आपलोग अच्छी तरह देख लो इनका बुखार पूरी तरह से चला गया है। हकीम जी का यह नुस्खा गलत नही है। यह उन्हीं की बताई हुई तरकीब है। अगर आपलोगों को भरोसा नहीं हो रहा है तो आपलोग खुद जाकर हकीम साहब से जाकर पूछ सकते हैं। अगर तरकीब गलत होती तो दादीजान का बुखार कभी नहीं उतरता ना।”

सभी लोग गुस्से से लत-पत हकीम साहब के पास पहुँचे और हकीम साहब को सारी बातें विस्तार में बतायीं। तो हकीम साहब ने लोगों से कहा- “मैंने तो चिल्ली की खुरपे के लिए यह बात बताई थी कि खुरपे को ठंडा करना होगा तो इसका ताप खतम होगा। तो इसका बुखार भी खतम हो जाएगा।”

“आरे मियाँ, आपके दादीजान को तो बुखार था, इन्हें पानी में डुबोने की क्या जरूरत थी। चिल्ली तो अभी बहुत छोटा है, बच्चा है लेकिन मियाँ आपलोग तो बड़े हैं आपलोग को तो सोचना चाहिए था। ये इंसान है कोई खुरपी नहीं।”

मियाँ चिल्ली के इस कांड के लिए उन्हें घरवालों ने बहुत पिटा था।

Sheikh Chilli Funny Hindi Stories For Kids – Comedy Story In Hindi

आपको हमारी यह कहानी कैसी लगी? आप हमें अपना सुझाव जरुर दें ताकि भविष्य में हम उस चीज पर गौर कर सकें।

Sheikh Chilli Funny Hindi Stories For Kids – Comedy Story In Hindi

(Sheikh Chilli Funny Hindi Stories – Comedy Story In Hindi)


इसी तरह के कहानियां पढने के लिए आप मेरे साईट को फॉलो कर सकते हैं। अगर आपको हमारी कहानियां अच्छी लगती है तो आप शेयर भी कर सकते हैं और अगर कोई कमी रह जाती है तो आप हमें कमेंट करके भी बता सकते हैं। हमारी कोशिस रहेगी कि अगली बार हम उस कमी को दूर कर सकें। (Sheikh Chilli Funny Hindi Stories For Kids – Comedy Story In Hindi)

-धन्यवाद 

Read More Stories: (Sheikh Chilli Funny Hindi Stories For Kids – Comedy Story In Hindi)

Sheikh Chilli Funny Hindi Stories For Kids – Comedy Story In Hindi

Follow Me On:
Share My Post: (Sheikh Chilli Funny Hindi Stories For Kids – Comedy Story In Hindi)

Leave a Reply

%d bloggers like this: