स्वरों का समर्पण | श्रीकांत वर्मा | हिंदी कविता

स्वरों का समर्पण | श्रीकांत वर्मा | हिंदी कविता

आपके सामने हिंदी कविता (Hindi Poem) “स्वरों का समर्पण” लेकर आया हूँ और इस कविता को श्रीकांत वर्मा  (18 सितम्बर 1931- 25 मई 1986) जी ने लिखा है. आपका जन्म बिलासपुर छत्तीसगढ़ में हुआ.
Read More
आदर्श प्रेम | आत्मदीप | लहर सागर का श्रृंगार नहीं | हरिवंशराय बच्चन | हिंदी कविता | PDF

आदर्श प्रेम | आत्मदीप | लहर सागर का श्रृंगार नहीं | हरिवंशराय बच्चन | हिंदी कविता | PDF

आपके सामने तीन हिंदी कवितायें (Hindi Poems) “आदर्श प्रेम”, “आत्मदीप” और “लहर सागर का श्रृंगार नहीं” लेकर आया हूँ और इन तीनो कविताओं को हरिवंशराय बच्चन (Harivansh Rai Bachchan) जी ने लिखा है. 
Read More
कोशिश करने वालों की हार नहीं होती | त्राहि, त्राहि कर उठता जीवन | इतने मत उन्‍मत्‍त बनो | हरिवंशराय बच्चन | हिंदी कविता

कोशिश करने वालों की हार नहीं होती | त्राहि, त्राहि कर उठता जीवन | इतने मत उन्‍मत्‍त बनो | हरिवंशराय बच्चन | हिंदी कविता

आपके सामने तीन हिंदी कवितायें (Hindi Poems) “कोशिश करने वालों की हार नहीं होती”, “त्राहि, त्राहि कर उठता जीवन” और “इतने मत उन्‍मत्‍त बनो” लेकर आया हूँ और इन तीनो कविताओं को हरिवंशराय बच्चन (Harivansh Rai Bachchan) जी ने लिखा है. 
Read More
गर्म लोहा | शहीद की माँ | आज मुझसे बोल, बादल | हरिवंशराय बच्चन | हिंदी कविता

गर्म लोहा | शहीद की माँ | आज मुझसे बोल, बादल | हरिवंशराय बच्चन | हिंदी कविता

आपके सामने तीन हिंदी कवितायें (Hindi Poems) “गर्म लोहा”, “शहीद की माँ” और “आज मुझसे बोल, बादल” लेकर आया हूँ और इन तीनो कविताओं को हरिवंशराय बच्चन (Harivansh Rai Bachchan) जी ने लिखा है.
Read More
ओस हिंदी कविता - Oas Hindi Poem - सोहनलाल द्विवेदी

ओस हिंदी कविता – Oas Hindi Poem – सोहनलाल द्विवेदी

नमस्कार दोस्तों! आज मैं फिर से आपके सामने एक कविता पेस करने जा रहा हूँ, और इस कविता को सोहनलाल द्विवेदी जी ने लिखा हैं, जिसका नाम है- "ओस". तो चलिए शुरू करते हैं आज की पोस्ट "ओस हिंदी कविता - Oas Hindi Poem".
Read More
गुड़िया हिंदी कविता - Gudiya Hindi Poem - कुँवर नारायण (Kunwar Narayan)

गुड़िया हिंदी कविता – Gudiya Hindi Poem – कुँवर नारायण (Kunwar Narayan)

नमस्कार दोस्तों! आज मैं आपके सामने एक कविता पेश करने जा रहा हूँ जिसका नाम है- "गुड़िया". इस कविता को कुंवर नारायण जी ने लिखा है. मैं उम्मीद करता हूँ कि आपलोगों को यह कविता पसंद आयेगी.
Read More