क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है – What is Cloud Computing, Why, Characteristics, Advantages and Disadvantages In Hindi

क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है – What is Cloud Computing: नमस्कार दोस्तों! आज मैं फिर से आ गया हूँ लेकर एक बहुत ही काम का पोस्ट जिसमें आप जानेंगे कि क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है (What is Cloud Computing), क्लाउड कंप्यूटिंग क्यों , Characteristics, Advantages, Disadvantages और History वो भी अपनी भाषा में जिससे आपलोगों को समझने में कोई दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ेगा. तो चलिए शुरू करते हैं आज का पोस्ट “क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है – What is Cloud Computing“.

क्लाउड कंप्यूटिंग (Cloud Computing) एक virtualization-based technology है जो हमें इंटरनेट कनेक्शन के माध्यम से एप्लिकेशन बनाने, कॉन्फ़िगर करने और अनुकूलित करने की अनुमति देती है. क्लाउड तकनीक में एक development platform, hard disk, software application, और database शामिल हैं.

Also Read:

क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है - What is Cloud Computing, Why, Characteristics, Advantages, Disadvantages and History In Hindi
क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है – What is Cloud Computing, Why, Characteristics, Advantages and Disadvantages In Hindi

क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है – What is Cloud Computing

आइए समझते हैं कि क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है (What is Cloud Computing). क्लाउड शब्द नेटवर्क या इंटरनेट को संदर्भित करता है. यह एक ऐसी तकनीक है जो स्थानीय ड्राइव के बजाय ऑनलाइन डेटा को स्टोर, प्रबंधित और एक्सेस करने के लिए इंटरनेट पर रिमोट सर्वर का उपयोग करती है. डेटा कुछ भी हो सकता है जैसे फाइलें, चित्र, दस्तावेज, ऑडियो, वीडियो, और बहुत कुछ.

Cloud Computing का उपयोग करके हम निम्नलिखित कार्य के लिए कर सकते हैं:

  • नए applications और services का विकास करना
  • डेटा का संग्रहण, बैक अप और रिकवरी
  • होस्टिंग ब्लॉग और वेबसाइट
  • On demand softwares का वितरण
  • डेटा का Analysis 
  • वीडियो और ऑडियो के स्ट्रीमिंग के लिए

क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है – What is Cloud Computing

क्लाउड कम्प्यूटिंग क्यों – Why Cloud Computing

आइए अब हम समझते हैं कि क्लाउड कम्प्यूटिंग क्यों (Why Cloud Computing). छोटी और साथ से बड़ी IT companies, IT infrastructure प्रदान करने के लिए पारंपरिक तरीकों का पालन करती हैं. इसका मतलब है कि किसी भी आई.टी. कंपनी के लिए, हमें एक सर्वर रूम की आवश्यकता होती है, जो आईटी कंपनियों की बुनियादी जरूरत है.

उस सर्वर रूम में, एक database server, mail server, networking, firewalls, routers, modem, switches, QPS (Query Per Second), configurable system, high net speed,और रख-रखाव के लिए एक इंजीनियर को रखना होता है.

इस तरह के IT infrastructure को स्थापित करने के लिए, हमें बहुत सारा पैसा खर्च करने की आवश्यकता है. इन सभी समस्याओं को दूर करने और IT infrastructure cost को कम करने के लिए, क्लाउड कम्प्यूटिंग (Cloud Computing) का उपयोग किया जाता है.

जैसे कि आप मेरे वेबसाइट पर पोस्ट पढने आते हैं तो ये पोस्ट मेरे कंप्यूटर सिस्टम में store नहीं होता है इसके लिए अलग से होस्टिंग और डोमेन लेना होता है जो कि एक तरह का डाटा store करने का सिस्टम है जो हमेशा ऑनलाइन रहता है. इसमें हमें कंप्यूटर का कुछ हिस्सा use करने के लिए दिया जाता है जिसके बदले हमें कुछ पैसे देने पड़ते हैं. ये सब क्लाउड कम्प्यूटिंग (Cloud Computing) के माध्यम से ही संभव हो सकता है.

Also Read:

क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है – What is Cloud Computing

क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है - What is Cloud Computing, Why, Characteristics, Advantages, Disadvantages and History In Hindi

क्लाउड कंप्यूटिंग की विशेषताए – Characteristics of Cloud Computing

अब हम “क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है – What is Cloud Computing” के इस सेक्आशन में देखेंगे क्लाउड कंप्यूटिंग की विशेषताए (Characteristics of Cloud Computing). क्लाउड कम्प्यूटिंग (Cloud Computing) की विशेषताएं नीचे दी गई हैं:

Agility

क्लाउड distributed computing environment में काम करता है. यह उपयोगकर्ताओं के बीच संसाधनों को share करता है और बहुत तेजी से काम करता है.

High availability and reliability

सर्वर की उपलब्धता अधिक और अधिक विश्वसनीय है क्योंकि infrastructure failure की chances minimum होती है.

High Scalability

क्लाउड बड़े पैमाने पर संसाधनों की “ऑन-डिमांड” (“On-demand”) व्यवस्था प्रदान करता है, बिना peak loads के इंजीनियरों के.

Multi-Sharing

क्लाउड कम्प्यूटिंग (Cloud Computing) की मदद से, common infrastructure साझा करके कई उपयोगकर्ता और एप्लिकेशन लागत में कटौती के साथ अधिक कुशलता से काम कर सकते हैं.

Device and Location Independence

क्लाउड कम्प्यूटिंग (Cloud Computing) उपयोगकर्ताओं को उनके स्थान की परवाह किए बिना वेब ब्राउज़र का उपयोग करके सिस्टम का उपयोग करने में सक्षम बनाता है या वे किस उपकरण का उपयोग करते हैं. जैसे कि पीसी, मोबाइल फोन, आदि. जैसा कि infrastructure off-site है (आमतौर पर एक तृतीय-पक्ष द्वारा प्रदान किया जाता है) और इंटरनेट के माध्यम से एक्सेस किया जाता है. उपयोगकर्ता कहीं से भी कनेक्ट कर सकते हैं.

Maintenance

Cloud computing applications का रखरखाव आसान है, क्योंकि उन्हें प्रत्येक उपयोगकर्ता के कंप्यूटर पर स्थापित करने की आवश्यकता नहीं है और विभिन्न स्थानों से पहुँचा जा सकता है. तो, यह लागत को भी कम करता है.

Low Cost

क्लाउड कम्प्यूटिंग (Cloud Computing) का उपयोग करने से, लागत कम हो जाएगी क्योंकि क्लाउड कंप्यूटिंग की सेवाओं को लेने के लिए, IT company को अपने स्वयं के infrastructure और संसाधनों के उपयोग के अनुसार भुगतान करने की आवश्यकता नहीं है.

Services in the pay-per-use mode

Application Programming Interfaces (APIs) उपयोगकर्ताओं को प्रदान किए जाते हैं ताकि वे इन APIs का उपयोग करके क्लाउड पर सेवाओं तक पहुंच सकें और सेवाओं के उपयोग के अनुसार शुल्क का भुगतान कर सकें.

क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है – What is Cloud Computing

क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है - What is Cloud Computing, Why, Characteristics, Advantages, Disadvantages and History In Hindi

क्लाउड कंप्यूटिंग के लाभ – Advantages of Cloud Computing

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि क्लाउड कंप्यूटिंग ट्रेंडिंग टेक्नोलॉजी है. लगभग हर कंपनी ने कंपनी के विकास को बढ़ाने के लिए अपनी सेवाओं को क्लाउड पर स्विच किया हुआ है.

यहां, हम क्लाउड कंप्यूटिंग के कुछ महत्वपूर्ण लाभों पर चर्चा करने जा रहे हैं-

Back-up and restore data

एक बार डेटा को क्लाउड में संग्रहित करने के बाद, क्लाउड का उपयोग करके back-up प्राप्त करना और उस डेटा को restore करना आसान होता है.

Improved collaboration

क्लाउड एप्लिकेशन लोगों के समूहों को shared storage के माध्यम से क्लाउड में जानकारी share करने और आसानी से share करने की अनुमति देकर सहयोग में सुधार करते हैं.

Excellent accessibility

क्लाउड हमें इंटरनेट कनेक्शन का उपयोग करके पूरी दुनिया में कहीं भी, कभी भी स्टोर जानकारी को जल्दी और आसानी से एक्सेस करने की अनुमति देता है. एक इंटरनेट क्लाउड इंफ्रास्ट्रक्चर संगठन उत्पादकता और दक्षता को बढ़ाता है ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि हमारा डेटा हमेशा सुलभ रहे.

Low maintenance cost

क्लाउड कंप्यूटिंग संगठनों के लिए हार्डवेयर और सॉफ़्टवेयर रखरखाव लागत दोनों को कम करता है.

Mobility

क्लाउड कंप्यूटिंग हमें आसानी से मोबाइल के माध्यम से सभी क्लाउड डेटा तक पहुंचने की अनुमति देता है.

Unlimited storage capacity

क्लाउड हमारे महत्वपूर्ण डेटा जैसे दस्तावेज़, चित्र, ऑडियो, वीडियो, आदि को एक स्थान पर संग्रहीत करने के लिए भारी मात्रा में भंडारण क्षमता प्रदान करता है.

Data security

क्लाउड कंप्यूटिंग के सबसे बड़े फायदों में से एक है- डेटा सुरक्षा. क्लाउड सुरक्षा से संबंधित कई उन्नत सुविधाएँ प्रदान करता है और यह सुनिश्चित करता है कि डेटा सुरक्षित रूप से संग्रहीत और संभाला जाए.

क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है – What is Cloud Computing

क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है - What is Cloud Computing, Why, Characteristics, Advantages, Disadvantages and History In Hindi

क्लाउड कंप्यूटिंग के नुकसान – Disadvantages of Cloud Computing

Internet Connectivity

जैसा कि आप जानते हैं, क्लाउड कंप्यूटिंग में, प्रत्येक डेटा (image, audio, video, etc.) को क्लाउड पर save किया जाता है, और हम इंटरनेट कनेक्शन का उपयोग करके इन डेटा को क्लाउड के माध्यम से एक्सेस करते हैं. यदि आपके पास अच्छी इंटरनेट कनेक्टिविटी नहीं है, तो आप इन डेटा तक नहीं पहुँच सकते. हालांकि, हमारे पास क्लाउड से डेटा एक्सेस करने का कोई अन्य तरीका नहीं है.

Vendor lock-in

Vendor lock-in, क्लाउड कंप्यूटिंग का सबसे बड़ा नुकसान है. एक विक्रेता से दूसरे में अपनी सेवाएं स्थानांतरित करते समय संगठनों को समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है. जैसा कि विभिन्न विक्रेता अलग-अलग प्लेटफ़ॉर्म प्रदान करते हैं, जिससे एक क्लाउड से दूसरे में जाने में कठिनाई हो सकती है.

Limited Control

जैसा कि हम जानते हैं, क्लाउड अवसंरचना service provider द्वारा पूरी तरह से स्वामित्व, प्रबंधित और निगरानी की जाती है, इसलिए क्लाउड उपयोगकर्ताओं का क्लाउड इन्फ्रास्ट्रक्चर के भीतर कार्य और सेवाओं के निष्पादन पर कम नियंत्रण होता है.

Security

हालांकि cloud service providers महत्वपूर्ण जानकारी store करने के लिए सर्वोत्तम सुरक्षा मानकों को लागू करते हैं. लेकिन, क्लाउड तकनीक अपनाने से पहले, आपको इस बात की जानकारी होनी चाहिए कि आप अपने सभी संगठन की संवेदनशील जानकारी किसी थर्ड पार्टी यानी क्लाउड store को भेजेंगे. क्लाउड पर डेटा भेजते समय, एक मौका हो सकता है कि आपके संगठन की जानकारी हैकर्स द्वारा हैक की जा सकती है.

Conclusion

आज हमने इस पोस्ट “क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है – What is Cloud Computing” में जाना कि

  • क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है – What is Cloud Computing
  • क्लाउड कम्प्यूटिंग क्यों – Why Cloud Computing
  • क्लाउड कंप्यूटिंग की विशेषताए – Characteristics of Cloud Computing
  • क्लाउड कंप्यूटिंग के लाभ – Advantages of Cloud Computing
  • क्लाउड कंप्यूटिंग के नुकसान – Disadvantages of Cloud Computing

Image Source of “क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है – What is Cloud Computing”: Pixabay

तो उम्मीद करता हूँ कि आपको हमारा यह हिंदी कविता क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है – What is Cloud Computing अच्छा लगा होगा. आप इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और हमें आप Facebook PageLinkedinInstagram, और Twitter पर follow कर सकते हैं जहाँ से आपको नए पोस्ट के बारे में पता सबसे पहले चलेगा. हमारे साथ बने रहने के लिए आपका धन्यावाद. जय हिन्द.

इसे भी पढ़ें

क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है – What is Cloud Computing

Leave a Reply