प्रोग्रामिंग लैंग्वेज क्या है हिंदी में | What is Programming Language in Hindi

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज क्या है हिंदी में (What is Programming Language in Hindi): नमस्कार दोस्तों! आज मैं फिर से आपके सामने लेकर आया हूँ बहुत ही काम का पोस्ट जिसमे आपको जानने को मिलेगा कि “प्रोग्रामिंग लैंग्वेज क्या है हिंदी में (What is Programming Language in Hindi)”.

जैसा कि हम जानते हैं, किसी व्यक्ति के साथ बात करने या अपने भावना को व्यक्त करने के लिए, हमें एक विशिष्ट भाषा की आवश्यकता होती है. उसी प्रकार कंप्यूटर के साथ communicate करने के लिए, Programmers को भी एक भाषा की आवश्यकता होती है जिसे “प्रोग्रामिंग लैंग्वेज” (“Programming Language”) कहा जाता है.

तो चलिए शुरू करते हैं आज का पोस्ट “प्रोग्रामिंग लैंग्वेज क्या है हिंदी में (What is Programming Language in Hindi)“.

Also Read:

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज क्या है हिंदी में | What is Programming Language in Hindi
प्रोग्रामिंग लैंग्वेज क्या है हिंदी में | What is Programming Language in Hindi

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज क्या है हिंदी में | What is Programming Language in Hindi

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज (Programming Language) को समझने से पहले हमें यह जानना होगा कि Language क्या होता है (What is a Language)?

Language क्या है (What is Language)?

जिसके माध्यम से हम किसी से बात, विचार, अपनी भावना को share करते हैं, उस माध्यम को भाषा (Language) कहा जाता है. उदाहरण के लिए, यदि हम किसी को पढ़ाना चाहते हैं, तो हमें एक ऐसी भाषा की आवश्यकता होती है, जो दोनों द्वारा समझ में आए.

“Language is a style of communique that is used to share ideas, reviews with each other.”

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज क्या है – What is Programming Language

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज क्या है हिंदी में | What is Programming Language in Hindi

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज (Programming Language) एक कंप्यूटर भाषा (Computer Language) है जो प्रोग्रामर/डेवलपर्स (Programmers/Developers) द्वारा कंप्यूटर के साथ communicate करने के लिए उपयोग की जाती है. यह किसी विशिष्ट कार्य को करने के लिए किसी भी विशिष्ट भाषा (C, C ++, Java, Python) में लिखे गए निर्देशों का एक समूह है.

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज मुख्य रूप से desktop applications, websites, और mobile applications को बनाने करने के लिए उपयोग की जाती है.

Also Read:

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज क्या है हिंदी में (What is Programming Language in Hindi)

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के प्रकार – Types of Programming Language

Low-level programming language

Low-level programming language को Machine Dependent Programming language भी कहते हैं, क्योंकि इसमें मशीन सिर्फ 0 या 1 को समझता है और computer system को सिर्फ 0 या 1 ही समझ में आता है. प्रोसेसर (Processor) Compiler या interpreter की आवश्यकता के बिना सीधे Low-level program को चलाता है, इसलिए Low-level programming language में लिखे गए प्रोग्राम बहुत तेजी से चलाए जा सकते हैं.

Low-level programming language को भी दो भागों में बांटा गया है: Machine Language और Assembly Language.

Machine Language

Machine Language एक प्रकार की Low-level programming language है. इसे machine code या object code भी कहा जाता है. Machine Language को पढ़ना आसान है क्योंकि यह आम तौर पर बाइनरी या हेक्साडेसिमल फॉर्म (बेस 16) फॉर्म में प्रदर्शित होता है. Programs को परिवर्तित करने के लिए translator की आवश्यकता नहीं होती है क्योंकि कंप्यूटर सीधे Machine Language के programs को समझते हैं.

Machine Language का लाभ यह है कि यह प्रोग्रामर को high-level programming language की तुलना में तेजी से programs को execute करने में मदद करता है.

Assembly Language

Assembly Language (ASM) भी ​​एक प्रकार की Low-level programming language है जिसे विशिष्ट प्रोसेसरों के लिए डिज़ाइन किया गया है. यह एक symbolic और human-understandable form में instructions के सेट represent करता है. यह Assembly Language को Machine Language में बदलने के लिए एक Assembler का उपयोग करता है.

Assembly Language का लाभ यह है कि किसी प्रोग्राम को execute करने के लिए कम मेमोरी और कम execution time की आवश्यकता होती है.

High-level programming language

High-level programming language (HLL) को उपयोगकर्ता के अनुकूल सॉफ्टवेयर प्रोग्राम और वेबसाइटों को विकसित करने के लिए डिज़ाइन किया गया है. इस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को प्रोग्राम को Machine Language में translate करने के लिए एक compiler या interpretor की आवश्यकता होती है.

High-level programming language का मुख्य लाभ यह है कि पढ़ना, लिखना और रखरखाव करना आसान है.

High-level programming language (HLL) में Python, Java, JavaScript, PHP, C#, C++, Objective C, Cobol, Perl, Pascal, LISP, FORTRAN, और Swift programming language शामिल हैं.

एक High-level programming language (HLL) को तीन भागों में विभाजित किया गया है – Procedural Oriented programming language, Object-Oriented Programming language और Natural language.

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज क्या है हिंदी में (What is Programming Language in Hindi)

Procedural Oriented programming language

Procedural Oriented Programming (POP) language, structured programming से ली गई है और procedure call concept पर आधारित है. यह एक program को छोटी procedures में विभाजित करता है जिसे routines या functions कहा जाता है.

Procedural Oriented programming language का उपयोग एक सॉफ्टवेयर प्रोग्रामर द्वारा IDE, Adobe Dreamweaver, या Microsoft Visual Studio जैसे प्रोग्रामिंग एडिटर का उपयोग करके पूरा किया जा सकता है.

Procedural Oriented programming language का लाभ यह है कि यह प्रोग्रामरों को प्रोग्राम के flow को आसानी से ट्रैक करने में मदद करता है और प्रोग्राम के विभिन्न हिस्सों में कोड का पुन: उपयोग किया जा सकता है.

Example: C, FORTRAN, Basic, Pascal, etc.

Object-Oriented Programming language

Object-Oriented Programming language (OOP) object पर आधारित है. इस Programming language में, programs को छोटे भागों में विभाजित किया जाता है जिन्हें objects कहा जाता है. Program में inheritance, polymorphism, abstraction, आदि जैसी real-world की entities को कार्यान्वित करने के लिए इसका उपयोग किया जाता है, ताकि कार्यक्रम को resusable, efficient और easy-to-use बनाया जा सके.

Object-Oriented Programming language का मुख्य लाभ यह है कि OOP fast है और यह easier to execute, maintain, modify, और debug जैसी सुविधा देता है.

Example: C++, Java, Python, C#, etc.

Natural language

Natural language अंग्रेजी, रूसी, जर्मन और जापानी जैसी मानव भाषाओं का एक हिस्सा है. इसका उपयोग मशीनों द्वारा मानव की भाषा को समझने, हेरफेर करने और व्याख्या करने के लिए किया जाता है. इसका उपयोग डेवलपर्स द्वारा translation, automatic summarization, Named Entity Recognition (NER), relationship extraction, और topic segmentation को करने के लिए किया जाता है.

Natural language का मुख्य लाभ यह है कि यह उपयोगकर्ताओं को किसी भी विषय में प्रश्न पूछने और सेकंड के भीतर सीधे जवाब देने में मदद करता है.

Middle-level programming language

Middle-level programming language, Low-level programming language और High-level programming language (HLL) के बीच की language है. इसे intermediate programming language और pseudo-language के रूप में भी जाना जाता है.

एक Middle-level programming language के फायदे हैं कि यह High-level programming language (HLL) की सुविधाओं का समर्थन करता है, यह एक उपयोगकर्ता के अनुकूल भाषा है, और मशीन भाषा और मानव भाषा से निकटता से संबंधित है.

Example: C, C++.

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज क्या है हिंदी में | What is Programming Language in Hindi

Conclusion

आज हमने इस पोस्ट “प्रोग्रामिंग लैंग्वेज क्या है हिंदी में | What is Programming Language in Hindi” में जाना कि

  • Language क्या है (What is Language)?
  • प्रोग्रामिंग लैंग्वेज क्या है – What is Programming Language
  • प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के प्रकार – Types of Programming Language और भी बहुत कुछ.

Image Source of “प्रोग्रामिंग लैंग्वेज क्या है हिंदी में | What is Programming Language in Hindi”: Pixabay, Pexels

तो उम्मीद करता हूँ कि आपको हमारा यह हिंदी कविता “प्रोग्रामिंग लैंग्वेज क्या है हिंदी में | What is Programming Language in Hindi” अच्छा लगा होगा. आप इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और हमें आप Facebook PageLinkedinInstagram, और Twitter पर follow कर सकते हैं जहाँ से आपको नए पोस्ट के बारे में पता सबसे पहले चलेगा. हमारे साथ बने रहने के लिए आपका धन्यावाद. जय हिन्द.

इसे भी पढ़े

Gmail account कैसे बनाये – How to create Gmail account in Hindi
Gmail का Password कैसे Change करें – How to change Gmail password in Hindi
Gmail Account पर अपना नाम कैसे बदलें – How to Change Your Name On Gmail Account In Hindi
Gmail में Signature कैसे जोड़ते हैं – How to add Signature in Gmail In Hindi
Gmail में Contacts कैसे जोड़े | How to add contacts to Gmail In Hindi

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज क्या है हिंदी में (What is Programming Language in Hindi)

Leave a Reply

%d bloggers like this: