ALT Attributes SEO

ALT Attributes SEO Images के लिए alternative text description प्रदान करती हैं, जिससे वे सर्च इंजनों के लिए अधिक accessible और optimized हो जाती हैं.

ALT Attributes SEO in Hindi
ALT Attributes SEO in Hindi | Image Source: Seobility

Introduction to ALT Attributes SEO

Search engine optimization (SEO) की दुनिया में, कई Factors हैं जो Search engine results pages (SERPs) पर वेबसाइट की रैंकिंग को प्रभावित करते हैं. Images के लिए ALT Attributes का उपयोग अक्सर अनदेखा किया जाने वाला Factors है.

ALT Attributes किसी वेबसाइट को अधिक accessible बनाने, user experience को बेहतर बनाने और Image Search के लिए optimize करने का एक अनिवार्य हिस्सा हैं.

इस पोस्ट में, हम SEO के लिए ALT Attributes के महत्व का पता लगाएंगे और उन्हें प्रभावी ढंग से Optimize करने के तरीके के बारे में सुझाव देंगे.

ALT Attributes SEO: Understanding Their Importance

ALT Attributes text के छोटे टुकड़े हैं जो webpage पर किसी Image   की Content  का describe करते हैं. उनका उपयोग Image   के बारे में alternative information प्रदान करने के लिए किया जाता है, मुख्य रूप से उन उपयोगकर्ताओं के लिए जो visual impairments या slow internet connection के कारण Image नहीं देख सकते.

ALT Attributes का उपयोग search engines द्वारा किसी Image की Content  को समझने के लिए भी किया जाता है, जो page की relevance और SERPs पर रैंकिंग को बेहतर बनाने में मदद करता है.

What are ALT Attributes?

ALT Attributes HTML Attributes हैं जो एक वेबपेज पर एक Image की Content का describe करने के लिए Alternate Text प्रदान करती हैं. ALT Attributes का प्राथमिक उद्देश्य उन उपयोगकर्ताओं के लिए Image  का एक Alternate description प्रदान करना है जो visual impairments or slow internet connection के कारण इसे नहीं देख सकते हैं.

वे कैसे काम करते हैं: जब किसी वेबपेज में एक Image  जोड़ी जाती है, तो Image  HTML Tag में ALT Attributes जोड़ी जाती है. यदि Image  लोड करने में विफल रहती है या यदि उपयोगकर्ता इसे देखने में असमर्थ है, तो ALT Attributes Image  का एक Text description प्रदान करती है.

Visual impairments वाले उपयोगकर्ताओं को Image  का describe करने के लिए screen reader या अन्य सहायक तकनीक द्वारा ALT Attributes को पढ़ा जाता है.

Examples of ALT Attributes SEO in Hindi

  • <img src=”apple.jpg” alt=”A red apple”> एक सेब की Image के लिए
  • <img src=”laptop.jpg” alt=”A person typing on a laptop”> लैपटॉप का उपयोग करने वाले किसी व्यक्ति की Image के लिए
  • <img src=”black-and-white-cat.jpg” alt=”A black and white cat sleeping on a windowsill”> एक खिड़की पर सो रही बिल्ली की Image के लिए

ALT Attributes वर्णनात्मक होनी चाहिए और Image Content के बारे में सटीक जानकारी प्रदान करनी चाहिए. उन्हें संक्षिप्त और सटीक होना चाहिए, लंबे विवरणों से बचना चाहिए जो उपयोगकर्ताओं के लिए समझना मुश्किल हो सकता है.

ALT Attributes का उपयोग करके, वेबसाइट के मालिक सभी उपयोगकर्ताओं के लिए अपनी वेबसाइट की पहुंच में सुधार कर सकते हैं, जिसमें visual impairments भी शामिल हैं, और overall user experience में सुधार कर सकते हैं.

Why are ALT Attributes Important for SEO?

SEO के लिए ALT Attributes कई कारणों से महत्वपूर्ण हैं:

  • Accessibility: ALT Attributes visual impairments उपयोगकर्ताओं के लिए एक वेबसाइट को अधिक सुलभ बनाने में मदद करती हैं जो इंटरनेट ब्राउज़ करने के लिए स्क्रीन रीडर जैसी सहायक तकनीक पर भरोसा करते हैं. Image का विवरण प्रदान करके, उपयोगकर्ता Image की Content को समझ सकते हैं, भले ही वे इसे देख न सकें.
  • Image Search Optimization: Image की Content को समझने और Image Search Results में Images को रैंक करने के लिए Search Engine ALT Attributes का उपयोग करते हैं. ALT Attributes का Image Search Optimization से किसी वेबसाइट पर अधिक ट्रैफ़िक आकर्षित करने में सहायता कर सकता है.
  • Web Page Loading Speed: Image के लिए Placeholder प्रदान करके ALT Attributes webpage loading speed को बेहतर बनाने में मदद करती हैं. यदि Image किसी भी कारण से लोड होने में विफल रहती है, तो ALT Attributes Image का विवरण प्रदान करती है, जो उपयोगकर्ताओं को टूटी हुई Image आइकन देखने से रोकती है.
  • User Experience and Engagement: ALT Attributes एक Image के बारे में अधिक जानकारी प्रदान करके User Experience and Engagement में सुधार कर सकती हैं. यह जानकारी उपयोगकर्ताओं को वेबपेज की Content को बेहतर ढंग से समझने और इसके साथ जुड़ने के बारे में सूचित निर्णय लेने में सहायता कर सकती है.

Best Practices for ALT Attributes SEO in Hindi

SEO के लिए ALT Attributes का Optimize करने के लिए, best practices का पालन करना महत्वपूर्ण है. प्रभावी ALT Attributes बनाने के लिए यहां कुछ दिशानिर्देश दिए गए हैं:

  • Be Descriptive: Image की Content का सटीक वर्णन करने के लिए वर्णनात्मक भाषा का उपयोग करें. “Image” या “Photo” जैसे सामान्य शब्दों का उपयोग करने से बचें और Image में क्या है इसके बारे में विशिष्ट रहें.
  • इसे छोटा रखें: आदर्श रूप से 125 वर्णों के तहत ALT विशेषता को छोटा और संक्षिप्त रखें. इससे उपयोगकर्ताओं के लिए समझना आसान हो जाता है और उन्हें बहुत अधिक जानकारी से अभिभूत होने से बचा जाता है.
  • कीवर्ड का उपयोग करें: प्रासंगिक कीवर्ड को ALT विशेषता में शामिल करें, लेकिन इसे बहुत अधिक कीवर्ड से न भरें. ALT विशेषता स्वाभाविक रूप से पढ़नी चाहिए और उपयोगी जानकारी प्रदान करनी चाहिए.
  • कीवर्ड स्टफिंग से बचें: ALT Attributes में कीवर्ड्स के अत्यधिक उपयोग से बचें, क्योंकि इसे स्पैमी के रूप में देखा जा सकता है और इसके परिणामस्वरूप सर्च इंजनों पर जुर्माना लगाया जा सकता है.
  • सटीक रहें: सुनिश्चित करें कि ALT Attribute Image Content का सटीक वर्णन करती है. भ्रामक जानकारी प्रदान करने से उपयोगकर्ता के अनुभव को नुकसान पहुँच सकता है और इसके परिणामस्वरूप सर्च इंजनों पर जुर्माना लगाया जा सकता है.
  • Title Attributes का उपयोग करें: Image के बारे में अतिरिक्त जानकारी प्रदान करने के लिए Title Attributes का उपयोग करें, जैसे लेखक या कॉपीराइट जानकारी.
  • सभी Imageयों के लिए Alt Attributes का उपयोग करें: वेबसाइट पर सभी Images के लिए ALT Attributes का उपयोग करें, यहां तक ​​कि decorative या background Image के लिए भी. इससे यह सुनिश्चित करने में मदद मिलती है कि visual impairments लोगों सहित सभी उपयोगकर्ता वेबसाइट का पूरा अनुभव कर सकते हैं.

इन best practices का पालन करके, वेबसाइट के मालिक अपनी वेबसाइट की पहुंच में सुधार कर सकते हैं और search engine result pages पर इसकी रैंकिंग में सुधार कर सकते हैं.

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि ALT Attributes को उपयोगकर्ताओं के लिए लिखा जाना चाहिए, न कि केवल खोज इंजनों के लिए, और Image की Content का सटीक वर्णन करना चाहिए.

Conclusion

ALT Attributes किसी वेबसाइट को अधिक सुलभ बनाने, उपयोगकर्ता अनुभव और जुड़ाव में सुधार करने और Image Search के लिए optimize करने का एक अनिवार्य हिस्सा हैं.

ALT attribute SEO के best practices का पालन करके, वेबसाइट के मालिक अपनी वेबसाइट की रैंकिंग में सुधार कर सकते हैं और सर्च इंजनों से अधिक ट्रैफ़िक आकर्षित कर सकते हैं. ALT attribute को वर्णनात्मक, संक्षिप्त और प्रासंगिक रखना याद रखें, और कीवर्ड स्टफिंग और दोहराव से बचें.

तो उम्मीद करता हूँ कि आपको हमारा यह पोस्ट ALT Attributes – SEO in Hindi” अच्छा लगा होगा. आप इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और हमें आप FacebookPageLinkedinInstagram, और Twitter पर follow कर सकते हैं जहाँ से आपको नए पोस्ट के बारे में पता सबसे पहले चलेगा. हमारे साथ बने रहने के लिए आपका धन्यावाद. जय हिन्द.

इसे भी पढ़े

  • Article spinning क्या है?
    इस Article में, हम Article spinning क्या है और इसके फायदे और नुकसान का पता लगाएंगे.
  • Accelerated Mobile Pages (AMP) – SEO in Hindi
    Accelerated Mobile Pages (AMP) एक open-source project है जिसका उद्देश्य पेज लोड टाइम को कम करके मोबाइल ब्राउज़िंग एक्सपीरियंस को बेहतर बनाना है.
  • ALT Attributes SEO
    ALT Attributes SEO Images के लिए alternative text description प्रदान करती हैं, जिससे वे सर्च इंजनों के लिए अधिक accessible और optimized हो जाती हैं.
  • PageRank – SEO
    इस पोस्ट में हम PageRank (SEO in Hindi) के बारे में विस्तार से बात करेंगे कि यह होता क्या हैं और इसका हमारे वेबसाइट SEO में क्या क्या काम है?
  • Off-Page Optimization – SEO
    इस पोस्ट में हम Off-page OptimizationSEO के बारे में सब कुछ विस्तार से जानेगे. इसमें क्या सब आता है क्या क्या आपको वेबसाइट SEO के लिए पता होना चाहिए ये सब हम आपको इस पोस्ट में बताने जा रहे हैं.
  • 404 एरर (404 error) – SEO in Hindi
    वेबसाइट SEO के इस पोस्ट में हम 404 एरर (404 error) के बारे में जानेंगे 404 एरर क्या है और इसका वेबसाइट में कितना योगदान होता है. इससे जुड़ी और भी कई बातों को हम इस पोस्ट में जानेंगे.
  • 301 रीडायरेक्ट (301 Redirect) – SEO in Hindi
    वेबसाइट SEO के इस पोस्ट में हम 301 रीडायरेक्ट (301 Redirect) के बारे में जानेंगे 301 रीडायरेक्ट क्या है और इसका वेबसाइट में कितना योगदान होता है. इससे जुड़ी और भी कई बैटन को हम इस पोस्ट में जानेंगे.
  • रोबोट मेटा टैग (Robot Meta Tag) – SEO
    रोबोट मेटा टैग (Robot Meta Tag) वेबसाइट SEO का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है इसमें एक गर्बरी के कारण वेबसाइट का पूरा SEO बर्बाद हो सकता है. हम जानेंगे कि रोबोट मेटा टैग का उपयोग कैसे किया जाता है और इससे जुड़ी और भी जरुरी बातों को जानेंगे.
  • हिडन टेक्स्ट (Hidden Text) – SEO
    वेबसाइट SEO के इस पोस्ट में हम हिडन टेक्स्ट (Hidden Text) के बारे में जानेंगे और हम जानेगे कि वेबसाइट के SEO में हिडन टेक्स्ट (Hidden Text) की जरुरत क्या है और इसका SEO में कितना महत्व रखता है और हिडन टेक्स्ट का कब इस्तेमाल करना चाहिए और कब नहीं करना चाहिए.
  • साइटमैप (Sitemap) – SEO
    वेबसाइट SEO के इस पोस्ट में हम साइटमैप (Sitemap) के बारे में जानेंगे और हम जानेगे कि वेबसाइट के SEO में साईटमैप की जरुरत क्या है और इसका SEO में कितना महत्व रखता है.

ALT Attributes SEO in Hindi

Leave a Reply

%d bloggers like this: