PageRank – SEO

आज के इस पोस्ट में हम PageRank (SEO in Hindi) के बारे में विस्तार से बात करेंगे कि यह होता क्या हैं और इसका हमारे वेबसाइट SEO में क्या क्या काम है?

तो चलिए आज हम “PageRank – SEO in Hindi” के बारे में जानते हैं और आप लोगों को SEO से रिलेटेड और भी ब्लॉग पढने की इच्छा हो तो आप हमारे वेबसाइट पर पढ़ सकते हैं. (यहाँ क्लिक करें)

PageRank (SEO in Hindi)
PageRank (SEO in Hindi)

PageRank क्या है? (What is PageRank in Hindi?)

PageRank link analysis के लिए Google द्वारा उपयोग किया जाने वाला एक एल्गोरिथम है. इसका आविष्कार गूगल के मालिक लैरी पेज (Larry Page) और सर्गेई ब्रिन (Sergey Brin) ने किया था.

यह Google द्वारा उनकी योग्यता के आधार पर पेजों को रैंक करने के लिए विकसित किया गया था, न कि मेटा टैग पर क्योंकि लोगों ने अपनी रैंकिंग में सुधार के लिए मेटा टैग का दुरुपयोग करना शुरू कर दिया था. यह वेबपेज के लिंक की गुणवत्ता और मात्रा का मूल्यांकन करता है और तदनुसार पेज के महत्व और अधिकार के आधार पर 0 से 10 के पैमाने पर एक अंक प्रदान करता है.

यह एक महत्वपूर्ण off-page optimization factor है. यह तय करता है कि आपके उपयोगकर्ता विश्वव्यापी वेब पर आपके वेबपेजों को कितनी आसानी से और तेज़ी से ढूंढ सकते हैं. अगर आपका PageRank अच्छा है तो यूजर आपको आसानी से ढूंढ लेगा क्योंकि सर्च इंजन आपकी साइट को सर्च इंजन लिस्टिंग में ऊपर रखेगा.

PageRank कैसे निर्धारित किया जाता है?

इसकी गणना एक proprietary mathematical formula द्वारा की जाती है जो किसी वेबसाइट के प्रत्येक लिंक को वोट के रूप में मानता है. एक लोकप्रियता प्रतियोगिता में समान सामग्री और कीवर्ड वाली हर दूसरी वेबसाइट के साथ एक वेबसाइट की तुलना की जाती है. सबसे मूल्यवान लिंक सहित अधिकांश लिंक वाली वेबसाइट को लोकप्रियता में उच्च रैंक प्राप्त होती है.

इसलिए, आपकी साइट के PageRank को बेहतर बनाने के लिए, आपकी वेबसाइट को अन्य वेबसाइटों से बैकलिंक्स की आवश्यकता होती है. आपकी साइट का प्रत्येक लिंक या वोट आपकी साइट के लिए मूल्य जोड़ता है. Google उन वेबसाइटों का भी मूल्यांकन करता है जो आपकी साइट को लिंक प्रदान करती हैं.

आपके Google PageRank को बेहतर बनाने के लिए कुछ महत्वपूर्ण लिंक निर्माण कार्यनीतियां:

  • अपनी साइट को प्रसिद्ध और लोकप्रिय निर्देशिकाओं पर सूचीबद्ध करें और उन लिंक फ़ार्म से दूर रहें जो उपयोगी नहीं हैं.
  • ऑनलाइन मंचों का हिस्सा बनें और अपनी साइट पर बैकलिंक्स के साथ बहुमूल्य टिप्पणियां साझा करें.
  • EzineArticles और संबद्ध सामग्री जैसी विश्वसनीय और लोकप्रिय लेख प्रस्तुत करने वाली साइटों पर प्रासंगिक लेख प्रकाशित करें.
  • लोकप्रिय साइटों का पता लगाएं और उन्हें लिंक एक्सचेंज के लिए प्रोत्साहित करें
  • सोशल मीडिया पर सक्रिय रहें; लिंक बनाने के लिए सोशल बुकमार्किंग, ट्विटर प्रोफाइल लिंक और Google+ शेयर जैसी विभिन्न तकनीकों का उपयोग करें.

Conclusion

तो उम्मीद करता हूँ कि आपको हमारा यह पोस्ट PageRank – SEO in Hindi अच्छा लगा होगा. आप इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और हमें आप FacebookPage, Linkedin, Instagram, और Twitter पर follow कर सकते हैं जहाँ से आपको नए पोस्ट के बारे में पता सबसे पहले चलेगा. हमारे साथ बने रहने के लिए आपका धन्यावाद. जय हिन्द.

इसे भी पढ़े

  • PageRank – SEO
    इस पोस्ट में हम PageRank (SEO in Hindi) के बारे में विस्तार से बात करेंगे कि यह होता क्या हैं और इसका हमारे वेबसाइट SEO में क्या क्या काम है?
  • Off-Page Optimization – SEO
    इस पोस्ट में हम Off-page OptimizationSEO के बारे में सब कुछ विस्तार से जानेगे. इसमें क्या सब आता है क्या क्या आपको वेबसाइट SEO के लिए पता होना चाहिए ये सब हम आपको इस पोस्ट में बताने जा रहे हैं.
  • 404 एरर (404 error) – SEO in Hindi
    वेबसाइट SEO के इस पोस्ट में हम 404 एरर (404 error) के बारे में जानेंगे 404 एरर क्या है और इसका वेबसाइट में कितना योगदान होता है. इससे जुड़ी और भी कई बातों को हम इस पोस्ट में जानेंगे.
  • 301 रीडायरेक्ट (301 Redirect) – SEO in Hindi
    वेबसाइट SEO के इस पोस्ट में हम 301 रीडायरेक्ट (301 Redirect) के बारे में जानेंगे 301 रीडायरेक्ट क्या है और इसका वेबसाइट में कितना योगदान होता है. इससे जुड़ी और भी कई बैटन को हम इस पोस्ट में जानेंगे.
  • रोबोट मेटा टैग (Robot Meta Tag) – SEO
    रोबोट मेटा टैग (Robot Meta Tag) वेबसाइट SEO का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है इसमें एक गर्बरी के कारण वेबसाइट का पूरा SEO बर्बाद हो सकता है. हम जानेंगे कि रोबोट मेटा टैग का उपयोग कैसे किया जाता है और इससे जुड़ी और भी जरुरी बातों को जानेंगे.
  • हिडन टेक्स्ट (Hidden Text) – SEO
    वेबसाइट SEO के इस पोस्ट में हम हिडन टेक्स्ट (Hidden Text) के बारे में जानेंगे और हम जानेगे कि वेबसाइट के SEO में हिडन टेक्स्ट (Hidden Text) की जरुरत क्या है और इसका SEO में कितना महत्व रखता है और हिडन टेक्स्ट का कब इस्तेमाल करना चाहिए और कब नहीं करना चाहिए.
  • साइटमैप (Sitemap) – SEO
    वेबसाइट SEO के इस पोस्ट में हम साइटमैप (Sitemap) के बारे में जानेंगे और हम जानेगे कि वेबसाइट के SEO में साईटमैप की जरुरत क्या है और इसका SEO में कितना महत्व रखता है.
  • Internal link Building – SEO in Hindi
    वेबसाइट SEO के इस पोस्ट में हम इंटरनल लिंक बिल्डिंग (Internal link Building) के बारे में जानेंगे और हम इसके साथ-साथ ये भी जानेंगे कि वेबसाइट SEO में इंटरनल लिंकिंग का कितना महत्व है.
  • Images & Alt Text SEO
    वेबसाइट SEO के इस पोस्ट में हम Images और Alt Text SEO के बारे में जानेंगे. हम जानेगे कि किसी भी वेबसाइट के SEO में images और alt text का क्या काम है और इन दोनों का वेबसाइट SEO में कितना योगदान होता है?
  • मेटा टैग (Meta Tags) – SEO
    वेबसाइट SEO के इस पोस्ट में हम मेटा टैग (Meta Tags) के बारे में जानेंगे. हम जानेगे कि मेटा टैग्स क्या होता है, ये कितने types के होते हैं और वेबसाइट के SEO में इसका कितना महत्त्व है? तो चलिए शुरू करते हैं आज का पोस्ट जिसका नाम है- मेटा टैग (Meta Tags) – SEO…

Leave a Reply

%d bloggers like this: